SPG Recruitment: 10वीं पास SPG में करना चाहते हैं नौकरी, तो जानें क्या है सेलेक्शन प्रोसेस और तमाम डिटेल

SPG Recruitment

SPG Recruitment: उम्मीदवार यदि SPG में शामिल होना चाहते हैं, तो वे यहां दिए गए इन तमाम बातों को ध्यान से पढ़ें.

SPG Recruitment: SPG यानी स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप का हिस्सा बनने का सपना अधिकांश युवाओं का होता है. यह एक अच्छी तरह से प्रशिक्षित (SPG Recruitment) संगठन है, जो भारत के अति विशिष्ट व्यक्तियों को सुरक्षा प्रदान करता है. ये वीआईपी मौजूदा प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्री और उनके साथ रहने वाले परिवार के सदस्य होते हैं. इस संगठन (SPG) की स्थापाना 1988 में की गई थी. 

इन सब की इनफार्मेशन हिंदी में केवल आप के लिए आज ही क्लिक करे

Fast Job Search / Daily Current Affairs / Education News / Exam Answer Keys / Exam Syllabus & Pattern / Exam Preparation Tips / Education And GK PDF Notes Free Download / Latest Private Sector Jobs / admit card / Results Live

आइए हम आपको बताते हैं कि SPG का चयन (SPG Recruitment) कैसे होता है और किन प्रक्रियाओं से होकर गुजरना पड़ता है…

एसपीजी भर्ती के लिए ऐसे होता है चयन

किसी भी अन्य फोर्सेज की तरह SPG में सीधे भर्ती (SPG Recruitment) नहीं की जाती है. इसमें सीनियर और जूनियर अधिकारियों को भारतीय पुलिस सेवा (IPS), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF), सीमा सुरक्षा बल (BSF) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) से भर्ती किया जाता है. SPG के जवान हर साल ग्रुप में बदलते रहते हैं. कोई भी व्यक्ति एक वर्ष से अधिक समय तक सेवा नहीं करता है. इसके बाद उन्हें उनकी मूल इकाई में वापस भेज दिया जाता है. SPG में भर्ती के लिए गृह मंत्रालय द्वारा इन संगठनों को एक रिक्ति पदों की लिस्ट भेजी जाती है. इसके बाद लिस्ट को  पदानुक्रम इकाइयों को भेजी जाती है. इसके माध्यम से कई कर्मी SPG में विभिन्न पदों के लिए आवेदन करते हैं.

एसपीजी भर्ती के लिए चयन प्रक्रिया

SSB की तरह चयन में पसर्नल इंटरव्यू, साइको और फिजिकल टेस्ट होता है. चयन प्रक्रिया का पहला चरण IG (इंस्पेक्टर जनरल), दो Deputy IG और दो Assistant IG रैंक के एक IPS अधिकारी द्वारा आयोजित एक व्यक्तिगत साक्षात्कार है. साक्षात्कार के बाद एक फिजिकल टेस्ट, एक लिखित परीक्षा और एक साइको इवैल्यूएशन आयोजित किया जाता है.

एसपीजी भर्ती के लिए ट्रेनिंग 

उम्मीदवारों को तीन महीने के लिए प्रोबेशन पीरियड पर रखा जाता है जिसमें एक साप्ताहिक परीक्षा भी शामिल है. प्रोबेशन में फेल होने वालों को अगले बैच में एक और मौका दिया जाता है और अगर वे फिर भी इसे क्लियर नहीं कर पाते हैं तो उन्हें मूल यूनिट में वापस कर दिया जाता है. SPG सदस्यों को नियमित रूप से एक ड्यूटी से दूसरी ड्यूटी में घुमाया जाता है.

SPG के लिए होते हैं 4 ब्रांच 

SPG को मोटे तौर पर 4 कैटेगरी में वर्गीकृत किया गया है..

संचालन: यह वास्तविक तौर पर सुरक्षा प्रक्रिया को देखता है. संचालन शाखा में संचार विंग, परिवहन विंग और तकनीकी विंग जैसे घटक होते हैं.
ट्रेनिंग: यह श्रेणी कर्मियों को शारीरिक दक्षता, फायरिंग, तोड़फोड़ विरोधी जांच, संचार और अन्य परिचालन पहलुओं में प्रशिक्षण से संबंधित है.

यह भी पढ़ें – Government Scheme: सिर्फ 7 रुपये करें निवेश और पाएं 5,000 रुपये का मासिक पेंशन, Tax में भी छूट; ये रही डिटेल

खुफिया और यात्रा: यह खतरे के आकलन, कर्मियों से संबंधित आंतरिक खुफिया, कैरेक्टर और पूर्ववृत्त के सत्यापन और अन्य संबंधित नौकरियों से संबंधित है.
प्रशासन – यह श्रेणी कर्मियों, खरीद और अन्य संबंधित मामलों से संबंधित है.

एसपीजी भर्ती के लिए योग्यता मानदंड

किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास होना चाहिए. इसके अलावा IPS, BSF,ITBP और CRPF के सेवारत सदस्य होना चाहिए.

एसपीजी भर्ती के लिए आयुसीमा

उम्मीदवारों को भारत का नागरिक होना चाहिए. उम्मीदवार की आयु 35 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए.

एसपीजी भर्ती के लिए वेतन

SPG सदस्यों का भत्ता उनके मूल वेतन का 50% है. प्रशासनिक अनुभाग में सदस्यों को 25% की बढ़ोतरी मिलती है.

Leave a Comment

Your email address will not be published.