google.com, pub-2082020619759954, DIRECT, f08c47fec0942fa0

Acidity: आपको रहती है गैस की प्रॉब्लम? जानें क्या है कारण और कैसे मिलेगा आराम

Reasons of Gas in Stomach

आजकल की भागती दौड़ती जिंदगी मे लोगों के पास वक्त कम और काम ज्यादा हो गया है.

Reasons of Gas in Stomach: आजकल बहुत सी चीजों की प्योरीटी खत्म हो चुकी है, जिससे हमारे हेल्थ को फायदा पहुंचने की बजाए नुकसान होने  लगता है. हमें समझ नहीं आता है कि अपनी डाइट मे क्या शामिल करें जिससे इन सबसे सुरक्षित रहें. आजकल गैस एक ऐसी समस्या बन गई है जो बहुत कॉमन हो गई है. यह सिर्फ बड़ों को नहीं बल्कि बच्चों को भी हो रही है. ऐसे हम आपकों गैस होने के कारण और बचाव के तरीकें बता रहें है

इन सब की इनफार्मेशन हिंदी में केवल आप के लिए आज ही क्लिक करे

Fast Job Search / Daily Current Affairs / Education News / Exam Answer Keys / Exam Syllabus & Pattern / Exam Preparation Tips / Education And GK PDF Notes Free Download / Latest Private Sector Jobs / admit card / Results Live

बच्चों में गैस्ट्रो प्रॉब्लम की वजह क्या है?

आजकल की भागती दौड़ती जिंदगी मे लोगों के पास वक्त कम और काम ज्यादा हो गया है. ज्यादातर वर्किंग पेरेंट्स समय बचाने के लिए और बच्चों को खुश रखने के लिए पैकेज्ड फूड यानि रेडी टू ईट फूड खिलाने लग गए हैं. इस कारण बच्चों को कम उम्र में ही गैस या एसिडिटी की समस्या होने लगी है. लोग टाइम ना होने को कारण अपने बच्चों का ठीक से ख्याल नहीं रख पाते है. इस कारण उन्हें छोटी उम्र में ही तरह-तरह की दिक्कत होने लगती है.

गैस का खतरनाक दर्द करता है परेशान 

गैस का दर्द आपकों और आपके बच्चों को बहुत परेशान कर सकता है. यह दर्द शरीर के किसी भी हिस्से में पहुंच सकता है. यह हार्ट से लेकर सिर में भी दर्द का कारण बन सकता है और तकलीफ दे सकता है. इसके कारण होने वाला सिर दर्द बहुत तेज हो सकता है. यह चक्कर आने का कारण भी बन सकता है. 

यह भी पढ़ें – CCI Recruitment 2021, Apply Onlne Officer, Engineer 46 Post

गैस की परेशानी से इस तरह बचें

अगर आपको भी गैस की परेशानी रहती है तो डॉक्टर की सलाह पर सही दवा लें. यह आपको आराम देगा और साथ ही आप योग और मेडिटेशन का सहारा लें सकते हैं. आप अपनी डाइट पर भी ध्यान दें. अगर आपकों कुछ चीजें खाने से गैस की प्रॉब्लम हो रही है तो उसे इग्नोर करें. चाय-कॉफी, तली चीजों का कम सेवन करें. फिजिकल एक्टिविटी बढ़ाएं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *