Rajasthan mein School Kab Khulenge 2021 Latest Information राजस्थान में स्कूल कब खुलेंगे

Rajasthan mein School Kab Khulenge 2021

Rajasthan mein School Kab Khulenge : राजस्थान में अब 15 नवंबर 2021 से स्कूल और कॉलेज पूरी 100% क्षमता के साथ खुलेंगे। और इसके सही ही शादी-विवाह, पार्टी, राजनैतिक कार्यक्रम, रैली और अन्य आयोजनों में लोगो की संख्या की पाबन्दी को हटा दिया गया है।राजस्थान में अब कक्षा 6th से 8th के स्कूल दिनांक 20 सितम्बर 2021 को खोलने की अनुमति राज्य सरकार द्वारा दी गई है और कक्षा 1 से 5 तक के छात्रों के स्कूल दिनांक 27 सितम्बर 2021 को 50% क्षमता के साथ खुल जायेंगे। लेकिन स्कूल के Teaching & Non Teaching Staff को कम से कम 14 दिन पूर्व कोरोना की 1st डोज लगी हुई होनी चाहिए।

राजस्थान में स्कूल/कॉलेज/शिक्षण संस्थान/कोचिंग आदि का संचालन 01 सितम्बर 2021 से 50% क्षमता के साथ शुरू किया जा सकता है। राज्य सरकार द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुसार कक्षा 09th से 12th के स्कूल खुल सकेंगे। स्कूल/कॉलेज और यूनिवर्सिटी के शैक्षणिक और अशैक्षणिक स्टाफ, बस, ऑटो,कैब चालक को 14 सिन पूर्व कोरोना की कम से कम एक खुराक (1st Dose) लगी हुई होनी चाहिए। इसके अलावा कोचिंग संस्थान के शैक्षणिक और अशैक्षणिक स्टाफ दोनों खुराक अनिवार्य रूप से लगी हुई होनी चाहिए। जिसकी जानकारी स्टाफ को ऑफिसियल पोर्टल www.covidinfo.rajasthan.gov.in पर बैठक क्षमता और स्टाफ के कार्मिक की जानकारी अनिवार्य रूप से अपलोड करनी होगी।

Rajasthan mein School Kab Khulenge 2021 Latest Information राजस्थान में स्कूल कब खुलेंगे

Download Notification-Click Here

राजस्थान में स्कूल कब खुलेंगे 2021

Rajasthan में स्कूल 07 जून 2021 से खुल जायेंगे लेकिन स्कूल में केवल अध्यापक ही आएंगे छात्र नहीं। राजस्थान में 07 जून 2021 से न्य शैक्षणिक स्तर शुरू हो रहा है। लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते कक्षाओ का संचालन अभी नहीं होगा। स्कूल में केवल शिक्षक होंगे वो भी 50% उपस्थिति के साथ होंगे। ऑनलाइन कक्षाओ जैसे आओ घर में सीखे 2.0 , स्माइल प्रोजेक्ट आदि का ऑनलाइन कक्षाओ को शुरू किया जायेगा।

राजस्थान में पिछले वर्ष 18 मार्च 2020 से स्कूल बंद है और अब कोरोना की दूसरी लहर आने के बाद स्कूल और कॉलेज 30 अप्रैल तक बंद किये गए थे और बाद में शिक्षा विभाग द्वारा 06 जून 2021 तक गीष्मकालीन अवकाश घोषित कर दिया गया है। अब 06 जून 2021 तक राजस्थान ममें स्कूल और कॉलेज बंद रहेंगे। इसके बाद आगे स्कूल कब खुलेंगे ये बात 06 जून के बाद आने वाले समय पर निर्भर करती है। राजस्थान में कक्षा 06th से 12th तक के स्कूल जनवरी 2021 से खोल दिए गए थे लेकिन बाद में कोरोना के बढ़ते मामलो के चलते स्कूल वापस बंद कर दिए गए है और कक्षा 5th के स्कूल पिछले वर्ष खुले ही नहीं थे।

Rajasthan mein School Kab Khulenge

राजस्थान में कोरोना के बढते हुए मामलो को देखते हुए राजस्थान सरकार ने स्कूल, कॉलेज और शैक्षणिक संस्थानो के खोलने पर 31 दिसंबर तक रोक लगा दी गई है। सरकार द्वारा समय समय पर स्कूल खोलने पर रोक बढ़ती जा रही है जिसके चलते छात्र अब लम्बी छुट्टियों के चलते बोर हो रहे है और न ही अपनी पढ़ाई को कर पा रहे है। राज्य सरकार द्वारा कन्टेनमेंट जॉन में 31 दिसंबर का लॉकडाउन भी लागु किया है।

शैक्षणिक 2020-21 आधा बीतने को है लेकिन अभी तक अर्द्धवार्षिक परीक्षाओ को लेकर भी किसी प्रकार की जानकारी शिक्षा विभाग द्वारा नहीं दी गई है लेकिन इस वर्ष किसी भी छात्र को बिना परीक्षा के प्रमोट नहीं किया जायेगा।

देशभर में मार्च के बाद से लेकर चल रहे कोरोना संक्रमण के बाद से ही पुरे भारत में स्कूल और कॉलेज बंद है। किसी प्रकार का शिक्षण कार्य नहीं हो रहा है। लेकिन अब मच के बाद अब 21 सितम्बर 2020 से स्कूल खुल रहे है। अभी तक सिर्फ कक्षा 9 से 12 तक के छात्रों के लिए ही स्कूल खुलेंगे। और स्कूल खोलने के लिए केंद्र सरकार द्वारा गाइडलाइन जारी की गई है। इस गाइडलाइन के मुताबिक स्कूल खुलेंगे।

अभिभावकों से लेनी होगी अनुमति

21 सितम्बर को स्कूल खुलने के बाद अभिवावक की अनुमति से ही स्कूल जा सकेंगे। छात्रों को स्कूल जानके के लिए छात्रों को लिखित मंजूरी अपने माता-पिता या अभिवावको से लेनी होगी। मंत्रालय के अनुसार छात्र स्कूल में पढाई करने की फैसले के लिए स्वतंत्र है। छात्रों की कक्षाएं टाइम टू स्लॉट चलेगी और कोरोना के लक्षणो वाले छात्रों को प्रवेश नहीं दिया जायेगा।

कंटेनमेंट जाने में अभी स्कूल खोलने की इजाजत नहीं होगी और न ही इस जॉन के शिक्षको और छात्रों को भी स्कूल जाने की अनुमति नहीं होगी। और स्कूल में पूरी तरह से सरकार द्वारा जारी कोरोना की गाइड लाइन का पालन करना होगा।

स्कूल में छात्रों और अध्यापको को क्या करना होगा

  1. छात्रों को बीच कक्षा में 6 फिट की दुरी और मास्क अनवार्य होगा ऑनलाइन/डिस्टेंस लर्निंग की अनुमति तब भी जारी रहेगी।
  2. क्लास से बाहर भी टीचर और छात्रों के बीच सामाजिक दुरी के साथ बातचीत हो सकती है और सभा, स्पोर्ट्स और ऐसे अन्य एक्टिविटी या इवेंट आयोजित नहीं होंगे।
  3. आगुन्तको और छात्रों-अध्यापको में भेंट अलग-अलग समय पर होगी।
  4. स्कूल में अधिकतम 50% स्टाफ टीचिंग और नॉन टीचिंग बुला सकेंगे।
  5. किसी में आपातकालीन स्थिति के लिए स्कूल में स्टेट हेल्प लाइन नंबर के साथ स्थानीय स्वास्थ्य कर्मचारियों के नंबर भी उपलब्ध होंगे।
  6. प्लस ऑक्सीमीटर व्यवस्था अनिवार्य रूप से होनी चाहिए।
  7. सफाईकर्मी को थर्मल गन, डिस्पोजल पेपर टॉवेल, साबुन, 1% सोडियम हाइपोक्लोराइड सोल्युशन देना होगा।

स्कूल खोलने के बाद इस बार छात्रों का स्कूल का सिलेबस आधा होगा। और शैक्षिक सत्र में स्कूल जितने लेट खुलेंगे उतने की कार्यदिवस के अनुसार सिलेबस में कटौती होगी। जिसका अनुपात शिक्षा विभाग द्वारा जारी किया जायेगा।

LATEST POSTS

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Arunachal Pradesh Traditional Food – 10 Iconic Dishes Andhra Pradesh Traditional Food – 10 Iconic Dishes Punjabi Traditional Food – 10 Iconic Dishes Gujarati Traditional Food Rajasthani Traditional Food 6 Summer Drinks With Aam Panna North Indian Rice Recipes 5 High-Protein Upma Recipes for a Breakfast That Will Give You Energy Sunday Special Breakfast Sandwich Recipe Coffee As A Cool Refresher