Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme Rajasthan Complete Information

Rajasthan Govt Scheme

Rajasthan Govt Scheme – 16 अगस्त 2021 को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के मसौदे को मंजूरी दी। इस योजना की घोषणा पहले राज्य के बजट 2021 में की गई थी। इस योजना के तहत राज्य सरकार रुपये तक ब्याज मुक्त ऋण प्रदान करती है। शहरी क्षेत्रों में पथ विक्रेताओं, मोची, बढ़ई, पेंटर, रिक्शा चालकों आदि को 50,000 रुपये। यह योजना शहरी क्षेत्रों में लोगों को कवर करने के लिए शुरू की गई है जिसमें लाभार्थियों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। यह रोजगार और स्वरोजगार के अवसरों को बढ़ावा देता है। शहरी क्षेत्रों में लगभग पांच लाख लाभार्थियों को योजना के तहत कवर करने का लक्ष्य है।

इन सब की इनफार्मेशन हिंदी में केवल आप के लिए आज ही क्लिक करे

Fast Job Search / Daily Current Affairs / Education News / Exam Answer Keys / Exam Syllabus & Pattern / Exam Preparation Tips / Education And GK PDF Notes Free Download / Latest Private Sector Jobs / admit card / Results Live

Overview:

Scheme

योजना इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना

Scheme Under

राजस्थान सरकार के तहत योजना

Approved By

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दी मंजूरी

Date of Approval

स्वीकृति की तिथि 16 अगस्त, 2021

Beneficiaries

लाभार्थी शहरी क्षेत्रों में स्ट्रीट वेंडर, मोची, बढ़ई, पेंटर रिक्शा चालक आदि।

Benefit

लाभ ब्याज मुक्त ऋण रु. 50,000/-

Objective

उद्देश्य पात्र लाभार्थियों को ब्याज मुक्त ऋण के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान करना

Scheme Objectives and Benefits:

  • योजना का मुख्य उद्देश्य शहरी युवा लाभार्थियों को रुपये तक ब्याज मुक्त ऋण के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान करना है। 50,000/-
  • इस योजना के माध्यम से महामारी की स्थितियों के कारण वित्तीय बाधाओं को कम किया जाएगा।
  • शहरी क्षेत्रों के सभी रेहड़ी-पटरी वाले, मोची, बढ़ई, पेंटर, रिक्शा चालक आदि सहायता के पात्र होंगे।
  • ऋण के लिए आवेदन करने और उसका लाभ उठाने की प्रक्रिया को आसान रखा गया है।
  • व्यवहार्यता के लिए ऋण की अधिस्थगन अवधि तीन महीने और चुकौती अवधि बारह महीने होगी।
  • यह पहल वित्तीय सहायता प्रदान करेगी और शहरी क्षेत्रों में रोजगार के साथ-साथ स्वरोजगार के अवसरों को बढ़ावा देगी।

Key Points:

  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 16 अगस्त, 2021 को इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के मसौदे को मंजूरी दी।
  • इस योजना की घोषणा राज्य के बजट 2021 में की गई थी।
  • स्थानीय स्वशासन विभाग इस योजना को लागू करेगा।
  • इस योजना के तहत राज्य सरकार रुपये तक ब्याज मुक्त ऋण प्रदान करेगी। शहरी क्षेत्रों में पथ विक्रेताओं, मोची, बढ़ई, पेंटर, रिक्शा चालक, दर्जी, राजमिस्त्री, प्लंबर आदि को 50,000 रुपये।
  • इच्छुक व्यक्तियों को ऋण आवेदन करना होगा।
  • ये ऋण तीन महीने की मोहलत अवधि के साथ गारंटी मुक्त ऋण हैं।
  • इन ऋणों की चुकौती अवधि बारह महीने है।
  • यह राज्य में 18-40 वर्ष के आयु वर्ग के सभी शहरी लाभार्थियों को कवर करता है।
  • ऋण राशि लाभार्थियों को महामारी की स्थिति के प्रभाव से निपटने में सहायता प्रदान करेगी।
  • यह योजना राज्य में रोजगार और स्वरोजगार के अवसरों को प्रोत्साहित करती है।
  • ऋण राशि की स्वीकृति पारदर्शी तरीके से होगी।
  • इस योजना के क्रियान्वयन और समीक्षा के लिए जिला कलेक्टर नोडल अधिकारी होंगे।
  • यह मुश्किल समय में लाभार्थियों के लिए वरदान साबित होगा।
  • इस योजना से लगभग पांच लाख शहरी लाभार्थी लाभान्वित होंगे।

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी देखे

LATEST POSTS

Leave a Comment

Your email address will not be published.