कोरोना दौर में इन 7 क्षेत्रों में बनाएं करियर, ये साबित हो रहे हैं बेहतर विकल्प

Make career in these 7 areas in Corona era, these are proving to be better options

कोविड दौर के चलते कंपनियों की उम्मीदें और जरूरतें बदल गई हैं. अब वे खास स्किल्स पर जोर दे रही हैं. इसलिए आपको अपनी स्किल्स बढ़ाने और बेहतर करने की जरूरत है.

Make career – नई दिल्ली. कोरोना (covid-19) महामारी ने लगभग सभी क्षेत्रों को झटका दिया है. करियर (career) के लिहाज से कई क्षेत्र बिल्कुल ठप्प हो गए हैं, तो कुछ क्षेत्रों में नए दरवाजे खुले गए हैं. तमाम क्षेत्रों ने अपने कामकाज का तरीका बदल दिया है. इनमें शिक्षा (education) और करियर क्षेत्र की बात की जाए तो यह अब पूरी तरह डिजिटल (digital) हो गया है. युवाओं और छात्रों के लिए यह जानना बहुत जरूरी है कि वे इस दौर में कौन सी नौकरी (jobs) करें, उसे कैसे ढूंढें और उसके लिए कैसे आवेदन करें. अब एक्सपर्ट से बात करना जरूरी है, ताकि बेहतर विकल्प चुना जा सके. चलिए आज नए दौर के इन्हीं विकल्पों के बारे में जानते हैं:

ध्यान रखें कि माहौल बदल चुका है: Make career

जिन छात्रों ने अभी ग्रेजुएशन किया है या कोई अन्य पढ़ाई पूरी की है, उन्हें ध्यान देना होगा कि अब माहौल पूरी तरह बदल चुका है. पढ़ाई से लेकर कामकाज, सभी ऑनलाइन (online) हो गया है. ऐसे में ऑनलाइन जॉब्स ज्यादा उपयोगी साबित होंगी. इसके लिए ऑनलाइन प्रक्रिया का ज्ञान (knowledge) होना जरूरी है. ऑनलाइन जॉब्स सर्च करते समय कुछ बातों का खास ध्यान रहे:

– विभिन्न सोशल मीडिया एकाउंट्स और प्लेटफॉर्म पर खुद को एक्टिवेट करें.
-इनका इस्तेमाल प्रोफेशनल नेटवर्क को बढ़ाने और जॉब्स ढूंढने के लिए करें.

-shine.com, indeed.com और monsterindia.com जैसी वेबसाइट पर जॉब्स, companies और चयन प्रक्रिया की जानकारी जुटाएं.

ऐसे चुनें सही ऑप्शन्स (options):

इन सब की इनफार्मेशन हिंदी में केवल आप के लिए आज ही क्लिक करे

Fast Job Search / Daily Current Affairs / Education News / Exam Answer Keys / Exam Syllabus & Pattern / Exam Preparation Tips / Education And GK PDF Notes Free Download / Latest Private Sector Jobs / admit card / Results Live


इस बात का ध्यान रखना बेहद जरूरी है कि करियर के चुनाव कैसे करना है. हमेशा अपनी रूचि और कौशल (skills) को ध्यान में रखते हुए करियर चुनें. कोरोना के चलते कई कैरियर विकल्प खत्म हो गए हैं तो कई नए विकल्प सामने भी आये हैं. इसलिए अब सही गाइडेंस (guidence) की बहुत जरूरत है.

ये भी पढ़ें –कोरोना वैक्सीन लगवाने का फोटो शेयर करने पर केंद्र सरकार दे रही 5,000 रुपये, बस करना होगा ये काम

Make career

आजकल ये कैरियर हैं टॉप पर:

1 ई-कॉमर्स (E-Commerce):

सभी को पता है कि ज्यादातर व्यापार अब ऑनलाइन ही किए जा रहे हैं. इसके चलते अब e-कॉमर्स बिज़नेस एसोसिएट्स, सप्लाई चैन एसोसिएट्स, पैकेज हैंडलर्स और पर्सनल शॉपर्स की काफी डिमांड (demand) है. इस फील्ड में टाइम मैनेजमेंट (time management), कस्टमर सर्विस (customer service) और लीडरशिप (leadership) स्किल्स (skills) होना बेहद जरूरी है.

2 डाटा साइंस (data science):

तमाम कंपनियों को डाटा इकट्ठा करने और उसके विश्लेषण के लिए डाटा साइंटिस्ट और डाटा एनालिस्ट की जरूरत होती है. ये एक्सपर्ट्स (experts) इकठे किए गए डाटा से रिजल्ट उपलब्ध कराते हैं. इससे कंपनी के नए प्रोजेक्ट्स बनते हैं और उनका प्रॉफिट भी बढ़ता है. इन प्रोफेशनल में टेन्सर फ्लो, स्टेटिसिकल मॉडलिंग और डाटा विसुअलैसशन की स्किल्स होना जरूरी होता है.

3 डिजिटल मार्केटिंग (digital marketing):

किसी भी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर वस्तुओं या सेवाओं की खरीदारी की जिम्मेदारी डिजिटल मार्केटिंग प्रोफेशनल पर होती है. आप यहां डिजिटल मार्केटिंग स्पेशलिस्ट, सोशल मीडिया मैनेजर और सर्च इंजन optamisation स्पेशलिस्ट के तौर पर काम कर सकते हैं. इस फील्ड के लिए प्रोडक्ट मार्केटिंग, डिजिटल स्ट्रैटजी और ब्रांड मैनेजमेंट स्किल्स का होना जरूरी है.

4 ई-एजुकेशन (e-education):

कोरोना दौर में शिक्षा ऑनलाइन ही हो रही है. इस फील्ड के लिए टीचिंग असिस्टेंट, स्कूल टीचर्स, प्रोफेसर्स और carricullam developers की बहुत मांग है. साथ ही डिजिटल स्ट्रेटेजी, लेसन प्लानिंग और टाइम मैनेजमेंट प्रोफेशनल्स की भी डिमांड है.

5 हेल्थकेयर मैनेजमेंट (Healthcare Management):

मौजूदा आपदा के दौर में यह एक महत्वपूर्ण क्षेत्र के रूप में सामने आया है. हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स के लिए सपोर्टिंग स्टाफ जरूरी होता है. जैसे हैल्थकेअर असिस्टेंट, फार्मेसी तकनीशियन, डेंटल असिस्टेंट और होम हेल्थ केयर आदि. इन लोगों के लिए पेशेंट एजुकेशन और डाटा एंट्री आदि की जानकारी होना जरूरी है. इन्हें ज्यादातर फिजिशियन के साथ काम करना होता है.

6 मेंटल हेल्थ स्पेशलिशन (Mental Health Specialisation):

कोविड दौर में कई प्लेटफॉर्म मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता और सहायता उपलब्ध करवा रहे हैं. इसके चलते मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल्स, बेहवीरिअल थेरेपिस्ट, सैकोथेरेपिस्ट और psychatrist आदि की मांग बढ़ गई है.

7 टेक्नोलॉजी (Technology):

ऑनलाइन वर्किंग प्लेटफॉर्म्स ने नौकरी के कई अवसर पैदा किए हैं. जैसे ब्लॉक चैन, एथिकल हैकिंग, साइबर सिक्युरिटी आदि. इसके लिए प्रोग्राम मैनेजमेंट और वेब डेवलपमेंट की जानकारी होना जरूरी है.

स्किल्स को बेहतर बनाने की ओर दें ध्यान:

कोविड दौर के चलते कंपनियों की उम्मीदें और जरूरतें बदल गई हैं. अब वे खास स्किल्स पर जोर दे रही हैं. इसलिए आपको अपनी स्किल्स बढ़ाने और बेहतर करने की जरूरत है. इसलिए अपनी विश्लेषण क्षमता, सीखने की ललक, रचनात्मकता, मौलिकता, टेक्निकल व डिजिटल स्किल्स, लीडरशिप व टीमवर्क, प्रॉब्लम सॉल्विंग स्किल्स और इमोशनल इंटेलिजेंस जैसी स्किल्स को बढ़ाना जरूरी है.

Leave a Comment

Your email address will not be published.