google.com, pub-2082020619759954, DIRECT, f08c47fec0942fa0

Career Tips : How to become an IFS Officer | कितनी होती है IFS ऑफिसर की सैलरी? यह परीक्षा पास कर जाएंगे विदेश

How to become an IFS Officer

How to become an IFS Officer : आमतौर पर सरकारी नौकरी (Sarkari Naukri) का मतलब होता है, देश में रहकर देश के हित में काम करना और देशवासियों की सेवा करना. लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि सरकारी नौकरी में विदेश भी जाया जा सकता है? यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) पास कर आप आईएफएस ऑफिसर (IFS Officer) बन सकते हैं, आईएफएस यानी इंडियन फॉरेन ऑफिसर (IFS Full Form, Indian Foreign Officer). ये ऑफिसर डिप्लोमैट (Diplomat) या एंबैसडर (Ambassador) की तरह होते हैं, जो भारत को दूसरे देशों में रिप्रेजेंट करते हैं. आईएफएस ऑफिसर की सैलरी कई लाख रुपये होती है (IFS Salary).

(Career Tips, IFS Officer). IFS का फुल फॉर्म इंडियन फॉरेन सर्विस (Indian Foreign Service) होता है (IFS Full Form). इसे भारतीय विदेश सेवा भी कहा जाता है. यह भारतीय विदेश मंत्रालय को चलाने के लिए एक खास सर्विस है, जो देश के बाहरी सभी कामों को मैनेज करती है. आईएफएस ऑफिसर (IFS Officer) भारत को अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों और दूसरे देशों में रिप्रेजेंट करते हैं. सिर्फ यही नहीं, भारत के ट्रेड और कल्चरल रिश्तों को डेवेलप करने की जिम्मेदारी भी इन्हीं पर होती है (International Trade Relations).

आईएफएस ऑफिसर (IFS Officer Work Profile) एक काफी सम्मानजनक पोस्ट मानी जाती है. इस सर्विस में आने के लिए  इसमें अच्छी सैलरी के साथ ही अन्य सुख-सुविधाएं भी मिलती हैं (IFS Salary). इंडिया में रहने वाले विदेशियों और नॉन-रेसिडेंट को काउंसलर फैसिलिटी प्रोवाइड कराने का काम भी क आईएफएस ऑफिसर का होता है.

आईएफएस ऑफिसर कैसे बनें?

आईएफएस ऑफिसर बनने के लिए यूपीएससी (UPSC Exam) द्वारा कंडक्ट कराया जाने वाला सिविस सर्विसेज एग्जाम (Civil Services Exam) देना अनिवार्य है. यह परीक्षा हर साल आयोजित कराई जाती है. इसे पास करने वाले स्टूडेंट्स ही आईएएस, आईपीएस और आईएफएस स्तर की जॉब पा सकते हैं. परीक्षा में हासिल किए गए अंकों और आपकी प्रिफरेंस के आधार पर ही किसी सर्विस में आपका चयन हो सकता है (IFS Officer Kaise Bane).

IFS ऑफिसर बनने के लिए जरूरी योग्यता

आईएफएस ऑफिसर (IFS Officer Eligibility) बनने के लिए किसी भी स्ट्रीम (आर्ट, कॉमर्स या साइंस) से 12वीं पास करने के बाद ग्रेजुएशन करना जरूरी है. अगर आप डिग्री कोर्स के लास्ट ईयर में हैं तो आईएफएस ऑफिसर के लिए होने वाले प्री-एग्जाम दे सकते हैं. आईएफएस ऑफिसर की परीक्षा देने के लिए कैंडिडेट की उम्र 21 साल से 30 साल के बीच होनी चाहिए.

इतनी होती है IFS ऑफिसर की सैलरी

आईएफएस ऑफिसर को करियर की शुरुआत में 60 हजार से ढाई लाख रुपये तक सैलरी मिलती है. आईएफएस ऑफिसर्स की सैलरी कैटेगरी और रैंक के हिसाब से तय की जाती है. विदेश में पोस्टेड ऑफिसर्स की सैलरी ज्यादा होती है (IFS Salary).

LATEST POSTS

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *