google.com, pub-2082020619759954, DIRECT, f08c47fec0942fa0

Career with Graduation: डिग्री के साथ कमाई भी, जानें ऐसे 10 बेहतर तरीके

Careers With Any Degree

Career Tips: अगर आप ग्रेजुएशन के बाद अपनी फील्ड के अलावा किसी दूसरी फील्ड में जॉब करने के बारे में सोच रहे हैं, तो यहां कई सारे करियर ऑप्शन के बारे में जान सकते हैं।

हाइलाइट्स:

  • किसी भी डिग्री के साथ चुन सकते हैं ये करियर
  • 10 ऐसे करियर ऑप्शन, जिन्हें आप कर सकते हैं

Careers With Any Degree: यह बात तो सच है कि हम अपने कोर्स या ग्रेजुएशन के मुताबिक ही करियर चुनते हैं। लेकिन जरूरी नहीं कि आपके पास लिमिटेड करियर ऑप्शन हैं, आप अपनी फील्ड के अलावा भी कई करियर चुन सकते हैं। अगर हम करियर ऑप्शन की बात करें, तो कुछ करियर ऐसे हैं जिन्हें आप किसी भी डिग्री के साथ कर सकते हैं। इसके अलावा, जिस करियर को आप चुनते हैं, वहां काम करने से एक्सपीरिएंस मिलता है और फिर आप उसमें मास्टर बन जाते हैं। तो चलिए बताते हैं आपको ऐसे 10 करियर ऑप्शन, जिन्हें आप किसी भी डिग्री के बाद चुन सकते हैं।

इन सब की इनफार्मेशन हिंदी में केवल आप के लिए आज ही क्लिक करे

Fast Job Search / Daily Current Affairs / Education News / Exam Answer Keys / Exam Syllabus & Pattern / Exam Preparation Tips / Education And GK PDF Notes Free Download / Latest Private Sector Jobs / admit card / Results Live

ह्यूमन रिसोर्सेस (HR)

एचआर का काम कर्मचारियों से संबंधी परेशानी को देखना और हायरिंग करना होता है। वह पेरोल, कर्मचारियों के फायदे, सैलरी और बाकी चीजें मैनेज करते हैं। एचआर की जॉब आजकल काफी अच्छी मानी जाती है और इसमें सैलरी भी हाई मिलती है। एचआर बनने के लिए आपको किसी स्पेसेफिक डिग्री की जरूरत नहीं होती है, किसी भी कोर्स के बाद आप एचआर फील्ड को चुन सकते हैं।

यह भी पढ़ें – Top High-Paid Jobs: क्रिएटिविटी पसंद हैं तो ये टॉप जॉब्स रहेंगी बेस्ट, सैलरी भी बढ़िया

अकाउंटेंसी (Accountancy)

अगर आपको अकाउंटेंसी में करियर बनाना है, तो किसी भी डिग्री के बाद इसे चुन सकते हैं। इसमें आपको स्ट्रॉन्ग न्यूमेरेसी स्किल्स और एनेलिटिकल माइंड की जरूरत होती है, जिससे मैथ्स से संबंधी काम आसानी से कर सकें। अगर आपके अच्छे ग्रेड्स हैं, तो आप किसी भी डिग्री के बाद अकाउंटेंसी में जा सकते हैं। इसकी हायरिंग के लिए आपको अकाउंटिंग एग्जाम और इंटरव्यू देना पड़ता है।

मार्केटिंग और ऐड्वर्टाइजिंग

मार्केटिंग और ऐड्वर्टाइजिंग की फील्ड में अधिकतर ज्यादा कॉम्पिटिशन रहता है, लेकिन इसमें सैलरी भी हाई होती है। अगर आपका माइंट क्रिएटिव आइडिया सोचता है, तो मार्केटिंग में करियर बनाना अच्छा ऑप्शन है। इसके लिए आप कॉपी राइटिंग, मार्केटिंग, मीडिया प्लैनर और मैनेजर बन सकते हैं। इस फील्ड में आपको किसी खास डिग्री की जरूरत नहीं होती, केवल आप ग्रेजुएट होने चाहिए।

इंवेस्टमेंट बैंकिंग

एक इंवेस्टमेंट बैंकर फाइनेंशियल सर्विस देता है, वह भी कंपनी और अलग-अलग इंस्टिट्यूट्स को। इंवेस्टमेंट बैंकर के पास स्ट्रॉन्ग न्यूमेरेसी स्किल्स और एनेलिटिकल माइंड होना जरूरी है। इसके अलावा, अगर आपको प्रोजेक्ट मैनेजमेंट में इंट्रेस्ट है और अच्छी पकड़ है, तो इंवेस्टमेंट बैंकिंग की जॉब आपके लिए बेस्ट ऑप्शन है। अगर आप एक अच्छी जॉब चाहते हैं, तो ग्रेजुएशन के टाइम से इंटर्नशिप भी कर सकते हैं।

मैनेजमेंट कंसल्टेंसी (Management consultancy)

अगर आपको क्रिएटिव आइडिया पर काम करना पसंद है, तो मैनेजमेंट कंसल्टेंसी की जॉब कर सकते हैं। कंसल्टेंट्स अलग-अलग कंपनी, सरकार और पब्लिक सेक्टर को स्ट्रेटेगिक आइडिया देते हैं। इसके लिए आपको ऑर्गनाइस्ड और स्ट्रॉन्ग कम्युनिकेशन स्किल्स की जरूरत होती है। अगर आपको लोगों से इंट्रैक्ट करना और कम्युनिकेट करना पसंद है, तो यह जॉब बेस्ट है।

टीचिंग (Teaching)

अगर आपको टीचिंग फील्ड में जाना है, तो आपको पोस्ट-ग्रेजुएट टीचर ट्रैनिंग कोर्स करना होगा और उसमें क्वालिफाई होना पड़ेगा। इसके बाद, आप टीचिंग फील्ड में आसानी से जा सकते हैं। टीचर बनने के लिए आपको स्ट्रॉन्ग कम्युनिकेशन स्किल्स, पेशेंस, कॉन्फिडेंस और क्रिएटिव होना पड़ता है। अगर आपको किसी एक सब्जेक्ट की नॉलेज ज्यादा है, तो उसके लिए भी टीचर बन सकते हैं।

पब्लिक रिलेशन्स (Public relations)

पब्लिक रिलेशन में आपको क्लाइंट्स की रेपोटेशन मैनेज करनी पड़ती है। इसमें क्लाइंट्स के साथ रिलेशन अच्छे रखने पड़ते हैं और स्ट्रॉन्ग कम्युनिकेशन स्किल्स चाहिए। अगर आपकी राइटिंग और वर्बल स्किल्स अच्छी हैं, तो पीआए में करियर बनाना अच्छा हो सकता है। पब्लिक रिलेशन्स के लिए आप इंटर्नशिप करने के बाद अच्छी जॉब ले सकते हैं।

हॉस्पिटेलिटी और ट्रैवल मैनेजमेंट

अगर आपको मैनेजमेंट और हॉस्पिटेलिटी में करियर बनाना है, तो इसके लिए किसी स्पेसेफिक डिग्री की जरूरत नहीं होगी। इसमें आपको लैंग्वेज और कम्युनिकेशन स्किल्स की जरूरत है। हालांकि अगर आप चाहें, तो हॉस्पिटेलिटी में भी ग्रेजुएशन कर सकते हैं, लेकिन किसी भी सब्जेक्ट में डिग्री लेने के बाद इसमें जॉब कर सकते हैं। वे ट्रैवलिंग और टूरिस्ट मैनेजमेंट का काम भी करते हैं।

सेल्स (Sales)

सेल्स से ही पता चलता है, कि हम सेलिंग की बात कर रहे हैं। इसमें आपको अलग-अलग कंपनियों के लिए सेल्स में काम करना पड़ता है। सभी कंपनियों को सेल्स कर्मचारियों की जरूरत होती है और इसमें किसी भी डिग्री के साथ करियर शुरु किया जा सकता है। अगर आप सेल्स में करियर बनाना चाहते हैं, तो कॉन्फिडेंस, कम्युनिकेशन स्किल्स और सोशल नेटवर्किंग जरूरी है।

सप्लाई चेन (Supply chain)

आजकल सप्लाई चेन में लोगों का करियर काफी आगे बढ़ रहा है। इसमें ग्रेजुएशन के बाद आप आसानी से जॉब कर सकते हैं। सप्लाई चेन में आपको अलग-अलग रिटेलर के साथ काम करना पड़ता है और वे आपको नई स्कीम के साथ सप्लाई चेन का काम देते हैं। एक अच्छी जॉब करने से पहले आप इंटर्नशिप करके एक्सपीरिएंस ले सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *